एकनिल साबुन के फायदे/ नुकसान पूरी जानकारी| kaisekareinhindi

0
35
acnil soap benefits in hindi

पिंपल केयर साबुन को मुहांसों का साबुन भी कहा जाता है, जो खासतौर पर मुहांसों को दूर करने के लिए तैयार किया जाता है। आज हम आपको मुहांसों को दूर करने के लिए एक बढ़िया साबुन के बारे में बताएंगे, जिसका नाम एकनिल साबुन है इस पोस्ट में आपको एकनिल साबुन के फायदे ? नुकसान और इससे जुडी पूरी जानकारी दी जाएगी।

एकनिल साबुन के फायदे

सर्दियों के मौसम में लोग साबुन लगाना छोड़ देते हैं, जिसके पीछे तर्क यह दिया जाता है कि साबुन लगाने से त्वचा रूखी हो जाती है और उन पर सफेदी जैसा कुछ दिखाई देता है। हालांकि यह बात कुछ हद तक इसलिए सही है, क्योंकि कुछ साबुन ऐसे होते है,जिसमें भर भरकर केमिकल का इस्तेमाल किया जाता है।

और ऐसे ही साबुन अधिकतर त्वचा को रूखी बनाने का काम करते हैं, परंतु कुछ साबुन ऐसे होते हैं जो नहाने के लिए नहीं बल्कि किसी खास प्रकार की ट्रीटमेंट के लिए बनाए जाते हैं। जैसे कि पिंपल केयर साबुन

एकनिल साबुन क्या है?

एकनिल साबुन खासतौर पर ऐसे लोगों के लिए तैयार किया गया है, जो चेहरे पर मुंहासे, स्किन डिसऑर्डर, ऑइली स्किन, झूरियां, ब्लैकहेड, मेलाजमा,लालपन, फोटोडेमेज और अन्य छोटी-मोटी त्वचा से संबंधित समस्याओं से परेशान हैं। यहां पर हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, इस साबुन का इस्तेमाल आर्टिकल में बताए गए कारकों के अलावा भी आप कर सकते हैं।

इस साबुन में क्या मिलाया गया है, इसके बारे में बात करें तो इस साबुन को तैयार करने में आइसोप्रोपिल मेरीस्टेट, सोडियम मेटासिलीकेट और क्यों थियोसोपौल मिलाया गया है। इस साबुन को जब आप अपनी त्वचा पर लगाते हैं, तो यह काफी तेजी के साथ आपकी त्वचा के अंदर चला जाता है और त्वचा की गंदगी को साफ करता है। त्वचा की गंदगी को बाहर निकालने के कारण यह चेहरे पर निखार लाने का काम भी करता है।

सावधान! लिरिल साबुन के फायदे, नुकसान| पूरी जानकारी

एकनिल साबुन का उपयोग क्या है?

नीचे हमने आपको उन सभी उद्देश्यों के बारे में जानकारी दी है, जिसके लिए इस साबुन का इस्तेमाल लोगों के द्वारा किया जाता है।

• पिंपल की ट्रीटमेंट के लिए
• पिंपल के बैक्टीरिया को खत्म करने के लिए •स्किन डिसऑर्डर के लिए
• तैलीय त्वचा के लिए
• झुर्रियों के लिए
• मेलाजमा के लिए
• ब्लैमिशेज के लिए
• फोटोडेमेज के लिए
• स्कीन से संबंधित छोटी मोटी समस्या के लिए • ब्लैकहेड के लिए

एकनिल साबुन का इस्तेमाल कैसे करें?

एकनिल साबुन का इस्तेमाल करने के लिए सबसे पहले अपने चेहरे पर ठंडे पानी के छींटे मारे। अब हाथों में साबुन को ले करके इसका झांग बनाएं। अब अपने चेहरे पर साबुन के झाग को लगाए और 2 से 3 मिनट तक मसाज करें। याद रखें कि यह मसाज हल्का होना चाहिए। उसके बाद पानी से अपने चेहरे को धो लें और साफ तौलिए से अपने चेहरे को पोछ ले।

एकनिल साबुन के फायदे क्या हैं?

मुख्य तौर पर इसका फायदा यही है कि यह पिंपल को पैदा करने वाले बैक्टीरिया से फाइट करता है और उन्हें आपकी त्वचा पर अधिक देर तक टिके रहने से रोकता है। इससे पिंपल की प्रॉब्लम आपको नहीं होती है और अगर आपके चेहरे पर पिंपल हो ही गए हैं, तो इसे लगाने से धीरे-धीरे यह पिंपल के बैक्टीरिया को नष्ट करता है, जिससे पिंपल का बड़ा आकार धीरे धीरे छोटा होने लगता है और एक दिन वह बिना दाग छोड़े हुए आपके चेहरे से गायब हो जाते हैं।

इसके अलावा यह साबुन झुर्रियों को भी कम करता है। ऑइली स्किन में से गंदे तेल को बाहर निकालता है। ब्लैकेड को भी खत्म करता है। पिंपल के बैक्टीरिया का खात्मा करता है। फोटोडेमेज के लिए भी इस साबुन का इस्तेमाल किया जा सकता है, साथ ही यह आपके चेहरे पर इंस्टंट निखार लाने का काम भी करता है।

एकनिल साबुन का नुकसान क्या है?

नीचे आपको उन साइड इफेक्ट की जानकारी दी गई है, जो एकनिल साबुन में मिलाए गए सामग्रियों के कारण आपको हो सकती है। हालांकि हम यह नहीं कह रहे कि यह साइड इफेक्ट आपको हो ही सकते हैं, परंतु कभी-कभी कुछ लोगों को इन सर्टिफिकेट का सामना करना पड़ सकता है। अगर आपको नीचे दिए गए किसी भी साइड इफेक्ट का सिग्नल मिलता है, तो अपने डॉक्टर से सलाह लें।

• त्वचा में जलन
• त्वचा का लाल हो जाना
• त्वचा में खुजली होना
• उल्टी होना
• डायरिया होना
• साबुन से एलर्जी होना
• सूंघने पर छींक आना

« रेक्सोना सॉप के फायदे | Rexona soap Benefits in Hindi

एकनिल साबुन को इस्तेमाल करने से संबंधित सावधानी

  • जो भी महिलाएं अपने बच्चे को दूध पिलाने का काम करती है, उन्हें इस साबुन को इस्तेमाल करने से बचना चाहिए।
  • छोटे बच्चों की पहुंच से आपको इस साबुन को बचाकर के रखना चाहिए।
  • गर्भावस्था के दरमियान आपको इस साबुन का प्रयोग नहीं करना चाहिए।
  • कभी भी आपको इस साबुन को अपने मुंह में नहीं डालना चाहिए।
  • अगर यह साबुन आपके मुंह में चला जाता है, तो तुरंत ही ठंडे पानी से कुल्ला करें।
  • इस साबुन को लगाने के पहले और लगाने के बाद अपने हाथ को अच्छी तरह से साफ करें।
  • साबुन को चेहरे पर लगाने के बाद तुरंत ना धोए, बल्कि कुछ देर तक मसाज करें और उसके बाद चेहरे को साफ करें।
  • अधिक मात्रा में साबुन को चेहरे पर ना लगाएं, बल्कि जितना आवश्यक हो, उतना ही इस्तेमाल करें।
  • साबुन को अपनी आंखों में और नाकों में जाने से बचाएं।

एकनिल साबुन में इस्तेमाल होने वाली सामग्री 

इस साबुन को तैयार करने में मुख्य तौर पर 3 प्रकार की सामग्री का इस्तेमाल किया गया है, जो कि इस प्रकार है।

• Thiosopol
• Isopropyl Myristate
• Sodium Metasilicate

« निको साबुन के फायदे हिंदी में | Neko Soap Benifiets in Hindi

FAQ:

Q: एकनिल साबुन का दाम क्या है?

Ans: 75 ग्राम का एकनिल साबुन आपको ₹92 का पड़ता है।

Q: एकनिल साबुन कहां से खरीदें?

Ans: मेडिकल स्टोर पर यह आपको मिल जाएगा अथवा ऑनलाइन भी मिल जाएगा या फिर स्किन स्पेशलिस्ट के पास भी यह साबुन आपको मिल जाएगा।

Q: एकनिल साबुन का इस्तेमाल कब करना चाहिए?

Ans: सुबह उठने के बाद, बाहर से घर आने के बाद,रात को सोने से पहले

Q: एकनिल साबुन का इस्तेमाल दिन में कितनी बार करना चाहिए?

Ans: कम से कम 3 बार अधिक से अधिक 4 बार

Q: एक नील साबुन को बनाने में क्या क्या मिलाया गया है?

Ans: Myristate,Sodium Metasilicate

Q: क्या हम इस साबुन का इस्तेमाल करना अचानक से बंद कर सकते हैं?

Ans: नहीं आपको इस साबुन को धीरे-धीरे करके इस्तेमाल करना बंद करना होगा।

निष्कर्ष:- एकनिल साबुन के फायदे 

इस पोस्ट में आपने जाना क्या एकनिल साबुन आपके लिए अच्छा है? क्या आपको इस्तेमाल करना चहिये! उम्मीद है  एकनिल साबुन के फायदे नुकसान की दी गई जानकारी आपके काम आएगी! और आप इसे शेयर भी करेंगे!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here